सहारनपुर। उत्तर प्रदेश में सहारनपुर नगर निगम के लिए पहली बार होने वाले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पार्षद पद के लिये रिकार्ड 11 मुस्लिम उम्मीदवार उतारे हैं।सहारनपुर नगर निगम के कुल 70 वार्ड हैं और कोई भी प्रमुख पार्टी सभी 70 वार्डों अपने उम्मीदवार नहीं उतार पाई है। भाजपा के चुनाव प्रभारी विजय पाल सिंह तोमर ने आज यहां बताया कि उनकी पार्टी ने पार्षद पद के लिए 62 उम्मीदवार उतारे जिनमें से 11 उम्मीदवार मुस्लिम हैं। भाजपा संगठन सभी 70 वार्डों पर दांव लगाने को प्रयासरत था लेकिन नामांकन के अंतिम दिन बाकी बचे आठ वार्डों के उम्मीदवार की तलाश नहीं कर पाई।

भाजपा महानगर अध्यक्ष अमित गगनेजा का दावा है भाजपा 62 में से कम से कम 42 से 45 स्थानों पर जीत दर्ज करेगी। उन्होंने बताया कि उम्मीदवारों के चयन में सामाजिक समीकरणों का पूरा ध्यान रखा है। सहारनपुर महानगर उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा पंजाबी बहुल है और भाजपा पार्षद पद के लिए 12 प्रत्याशी उम्मीदवारों को टिकट दिया है।

भाजपा ने छह उम्मीदवार वैश्य समाज, जिनमें पांच ब्राह्मण,तीन राजपूतों के अलावा जैन, गुर्जर, बाल्मिकी एवं उत्तराखंड के दो-दो लोगों को प्रत्याशी बनाया है। एक जाट,सिख, विश्वकर्मा, बढ़ई और माली बिरादरी का एक-एक उम्मीदवार जबकि आठ दलित वर्ग से और बाकी उम्मीदवार ओबीसी से हैं। सपा जिलाध्यक्ष चौधरी जगपाल सिंह ने बताया कि उनकी पार्टी ने 70 में से करीब 65 पार्षद उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारे हैं जिनमें 16 उम्मीदवार मुस्लिम हैं,
भारतीय जनता पार्टी के मुसलमानों की तरफ होने वाले इस झुकाव को राजनितिक लोग राज्मिति के नये दौर की शुरुआत मान रहे हें,वहीं कुछ लोगो का कहना है कि यह मुसलमानों से भाजपा से दुरी खत्म होने का समय आगया है

Facebook Comments
SHARE