रियाद : पूरी दुनिया में अपनी विशेष पहचान रखने वाले सऊदी अरब में एक बड़ा हादसा पेश आया है, जिसकी पूरी दुनिया में चर्चा होरही है।मामला सऊदी अरब के शहजादे प्रिंस मंसूर बिन मोकरिन असीर के आज एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मौत का है. सऊदी अरब शहजादे का हैलीकॉप्टर यमन से लगने वाली दक्षिणी सीमा के निकट दुर्घटनाग्रस्त हुआ.जिसमें कई सरकारी लोग भी मौजूद थे।सऊदी अरब के प्रमुख टीवी चैनल अल-इखबरिया ने असीर प्रांत के उप गवर्नर और पूर्व वली अहद (क्राउन प्रिंस) के बेटे शहजादे मंसूर बिन मोकरेन की मौत की घोषणा की है।

हादसे की खबर ऐसे समय में आई है जब सऊदी अरब ने प्रशासन के शीर्ष स्तर पर बडी फेरबदल की है. शहजादे मोहम्मद बिन सलमान ने सत्ता पर पकड मजबूत की है और दर्जनों शहजादों, मंत्रियों तथा करोडपति उद्योगपतियों को गिरफ्तार किया गया है. शहजादे मोहम्मद बिन सलमान को पहले ही अघोषित शासक के तौर पर देखा जा रहा है जो सरकार में रक्षा से ले कर आर्थिक क्षेत्र तक को नियंत्रित कर रहा है. ऐसा लगता है कि वह अपने 81 वर्षीय पिता शाह सलमान से सत्ता हासिल करने से पहले अंदरुनी विद्रोह को समाप्त करने में कोई कसर नहीं छोडना चाहते. इस हेलीकॉप्टर दुर्घटना से पहले कल सऊदी अरब ने यमन द्वारा दागी गई मिसाइल को रियाद के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के निकट नष्ट किया.

कौन थे प्रिंस मंसूर बिन 

प्रिंस मंसूर बिन मोकरिन असीर प्रांत के डिप्टी गवर्नर थे और पूर्व क्राउन प्रिंस के बेटे थे.  किंग सलमान के 2015 में गद्दी संभालने के बाद प्रिंस मंसूर के पिता मोकरिन बिन अब्दुल अजीज को अलग-थलग कर दिया गया था.इसके पहले सऊदी अरब ने शनिवार को यमन की तरफ से दागे गए एक बैलिस्टिक मिसाइल को मार गिराया था. सऊदी अरब की राजधानी रियाद के उत्तरपूर्वी इलाके में यह मिसाइल दागा गया था.

Facebook Comments
SHARE