राजस्थान के बागी बीजेपी विधायक घनश्याम तिवाड़ी के तेवर पार्टी को लेकर और बढ़ते ही जा रहे है। तिवाड़ी ने घोषणा की कि वो राज्य के आगामी विधान सभा चुनाव में सभी 200 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े करेंगे। माना जा रहा है कि तिवाड़ी उसी दिन अपनी नई राजनीतिक पार्टी की घोषणा करेंगे। राजस्थान में अगले साल विधान सभा चुनाव होने हैं। तिवाड़ी के जलसे में पूरे राज्य से उनके समर्थक आए थे।

घनश्याम तिवाड़ी ने दीनदयाल वाहिनी नामक एक संगठन बनाया है जिसके वो सरबरा हैं। तिवाड़ी की राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से अच्छे संबंध नहीं माने जाते। तिवाड़ी ने बताया कि वो खुद जयपुर की सांगनेर विधान सभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। तिवाड़ी पिछले कुछ समय से मीडिया पर अंकुश लगाने वाला विधेयक लाने, आरक्षण, नौकरी, पद्मावती और किसानों की बदहाली के मुद्दे पर वसुंधरा राजे की आलोचना करते रहे हैं। तिवाड़ी ने मांग की थी कि कर्ज से दबे किसानों का कर्ज माफ करने की मांग की थी। तिवाड़ी की मांग थी कि वसुंधरा सरकार स्वामिनाथन कमीशन की रिपोर्ट लागू करे।

घनश्याम तिवाड़ी ने कथित खनिज घोटाले में अपनी ही पार्टी की सरकार को घेरेत हुए मामले की सीबीअाई से जांच कराने की मांग की थी।

Facebook Comments
SHARE