आगरा-ऑल इंडिया मजलिस ऐ इत्तेहादुल मुस्लिमीन उत्तर प्रदेश के नगर निकाय चुनाव में किस्मत आज़मा रही है,सपा बसपा भाजपा लोकदल सहित सभी पार्टिया विधानसभा में अपना वर्सचाव दिखाने और लूटी हुई इज़्ज़त को बचाने के लिए पूरी ताकत झोंक रही हैं।

असदउद्दीन ओवैसी की मौजूदगी का पड़ रहा है प्रभाव।

यूपी के निकाय चुनाव में असद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM मैदान में है ,असदउद्दीन ओवैसी इस निकाय चुनाव में अपनी राजनीति ज़मीन मज़बूत करना चाहते हैं।चुनाव में कितनी कामयाबी मिलती है इसका तो नतीजे आने पर ही पता लगेगा। लेकिन आगरा नगर निकाय चुनाव में ओवैसी की पार्टी ने एक ई-रिक्शा चलाने वाली महिला को टिकट दिया है AIMIM ने आगरा वार्ड नम्बर 86 से जैबुन खान को प्रत्याशी बनाया है.जो पूरे देश मे चर्चा का विषय बना हुआ है।

कौन है ई-रिक्शा चलाने वाली

गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाली जैबुन खान ई-रिक्शा चलाकर अपने परिवार का गुज़ारा करती है।समाज की सेवा करने के लिए राजनीति में अपनी किस्मत का सितारा चमकाने के लिए वह इस बार AIMIM से पार्षद प्रत्याशी है।जैबुन खान को उम्मीद है कि वो जीतने में सफल होंगी,शनिवार को वो ई-रिक्शा चलाकर पार्षद के लिए नामांकन करने पहुची.AIMIM का पूरा ध्यान यूपी में पार्टी के संघठन को मजबूत करना है,इसी को लेकर AIMIM ने नगर निकाय चुनाव में लड़ने का फैसला किया है.

AIMIM के अलावा दिल्ली में शासन कर रही आम आदमी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी भी इस बार चुनाव मैदान में है आप का भी पूरा जोर यूपी में नगर निकाय चुनाव के सह्रारे देश के सबसे ज्यादा आबादी वाले प्रदेश में दस्तक देना है.बसपा परम्परिक रूप से निकाय चुनाव नही लडती थी लेकिन विधानसभा चुनाव में शर्मनाक हार के बाद बसपा भी निकाय चुनाव लड़ रही है

Facebook Comments
SHARE